Thursday, January 6, 2011

अयोध्या पर
बहुत सारे
लोगों को
बोलते सुना
कुछ
उनके विचार
कुछ अपने
मिलाकर
कुछ कुछ
एसा बना


क्या होता है
अयोध्या
शब्द का अर्थ
यही ना
जहां युद्ध
ना होता हो
जहां युद्ध
ना होता हो
वहीं तो होता है
राम का जन्म
जब तक
युद्ध रहेगा
तब तक
धुन्द रहेगी
जब तक
धुन्द रहेगी
तब तक
दृष्टि न होगी
समाधान के लिये
जरूरी है
सकारात्मक उर्जा
समाधान के लिये
जरूरी है
सकारात्मक सोच
जो की
सबको जोडे़
युद्ध की बात
न करे कोई
अयोद्धया शब्द
को सार्थक करें
अयोद्धया अर्थ
को सार्थक करें
ताकि
राम का जन्म
हर दिल में हो सके
फिर मंन्दिर बनाने
की बात पर
हाथों पर ईंट
उठायेंगे लोग जरूर
मगर मारने के
लिये नहीं
एक सुन्दर
निर्माण की
पहल के लिये
विश्व देखता
ही रहेगा
और
बन जायेगी
एक मिसाल ।

2 comments:

  1. krishna mahajanam(bliss.peace2all)January 18, 2011 at 11:34 AM

    kusumji ..Aapki rachnayein kabile tareef hain...padhkar bahut hi achha laga.. isi taraf aur likhiye.. hum jase sahitya premiyon ko achi hindi kavita padhne ka aur ache vicharon ko baantne ka anand prapt hoga..nayi kavitaon ka intezaar bhi rahega...!!!

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर कविता लिखी है| अच्छी लगी लिखते रहो| धन्यवाद|

    ReplyDelete